पूछताछ से पहले आया विपश्यना को आया अटैक, हनीप्रीत की हुई ये हालत

राम रहीम के जेल में जाते ही डेरा सच्चा सौदा के राज धीरे-धीरे बेपर्दा हो रहे हैं। 38 दिन बाद पकड़ी गई बाबा राम रहीम की दत्तक पुत्री हनीप्रीत अब हरियाणा पुलिस की गिरफ्त में है। लेकिन पूछताछ में हनीप्रीत कुछ बी साफ साफ नहीं बता रही है। इसलिए आज डेरा की चेयरपर्सन विपश्यना से भी एसआईटी की टीम पूछताछ करना चाहती थी, लेकिन पूछताछ से ठीक पहले विपश्यना की तबियत बिगड़ गई और उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। बताया जा रहा है कि विपश्यना को पूछताछ से पहले अस्थम अटैक आ गया, जिसके तुरंत बाद उसे अस्पताल ले जाया गया। जहां पर उसे भर्ती कराया गया। साथ ही अब पुलिस सिर्फ हनीप्रीत से ही पूछताछ कर रही है।

आपको बता दें कि विपश्यना पर भी गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। हरियामा पुलिस उससे पहले पूछताछ कर चुकी है, इसके बाद उससे मंगलवार को भी पूछताछ होने थी, लेकिन विपश्यना पूछताछ के लिए नहीं आई। जिसके बाद आज पिर उसे पूछताछ करने के लिए एसाईटी पहुंची, लेकिन अचानक उसकी तबियत बिगड़ गई।

पुलिस को शक है कि विपश्यना सवालों से भाग रही है।  वैसे सिरसा पुलिस उससे पूछताछ कर चुकी है। विपश्यना डेरा के थिंक टैंक के सदस्यों से एक है। वही पूरा मैनेजमेंट देखती है। ऐसे में डेरा का राज जानने के लिए SIT विपश्यना से हर कीमत पर सवाल जवाब करना चाहती है। हनीप्रीत और विपश्यना को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करना चाहती है।

इधर, यह भी खुलासा हुआ है कि 25 अगस्त को पंचकूला में हिंसा फैलाने के लिए खर्च किए गए आठ करोड़ रुपये डेरा सच्चा सौदा के खजाने से निकाला गया कालाधन था। राम रहीम की खास राजदार हनीप्रीत ने हरियाणा पुलिस की एसआईटी के समक्ष यह खुलासा किया है कि यह पैसा किस तरह और कहां से उपलब्ध करवाया गया था।

पुलिस पूछताछ के दौरान हनीप्रीत ने आठ करोड़ रुपये की धनराशि संबंधित एक फाइल का जिक्र किया था। यह फाइल हरियाणा पुलिस की एसआईटी के हत्थे चढ़ गई है। सूत्रों के मुताबिक, फंडिंग से जुड़े दस्तावेज बुधवार की रात को राजस्थान के गुरुसर मोडिया में चली लगभग 4 घंटे की रेड के दौरान जब्त किए गए हैं।

 

43 total views, 2 views today