प्रेमिका के साथ पहले किया बलात्कार और फिर पिता और दोस्तों के साथ मिलकर..

crime rape pics up

उत्तर प्रदेश: गाजियाबाद से सटे मोदीनगर से एक बहुत ही शर्मनाक मामला सामने आया है। यहां पर एक बाप ने अपने बेटे की काली करतूतों पर पर्दा पाने के लिए एक 15 साल की मासूम बच्ची को कुछ लोगों के साथ मिलकर मौत के घाट उतार दिया।

मोदीनगर की 15 वर्षीय किशोरी की हत्या उसी के प्रेमी ने अपने पिता व तीन साथियों के साथ मिलकर की थी। आरोपी के मुताबिक किशोरी शादी की जिद पर अड़ गई थी, लेकिन वह उससे शादी नहीं करना चाहता था। रास्ते से हटाने के लिए उसने हत्या कर दी। पुलिस ने साढ़े चार माह बाद हत्या का खुलासा कर आरोपी प्रेमी, उसके पिता समेत पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास से मृतका के कान की बाली, कपड़े, हत्या में इस्तेमाल की गई कार, दो तमंचे और एक बाइक बरामद की है।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने प्रेसवार्ता में बताया कि मोदीनगर की किशोरी की दोस्ती निवाड़ी थाना क्षेत्र के गांव पैंगा निवासी सुमित (21) से नवंबर में एक शादी में हुई थी। सुमित ने बात करने के लिए उसे एक फोन भी खरीदकर दिया था। किशोरी की मां को इसका पता चला, तो उसने फोन छीन लिया। इसके बाद 26 दिसंबर 2017 को सुमित उसे साथ ले गया। उसे घुमाया और रात को अपने घर ले गया। यहां उसने किशोरी से दुष्कर्म किया।

और फिर अगले दिन अपने दोस्त आरिफ को अपने घर बुलाया और फिर लड़की को दोस्त राजीव के घर भेज दिया। जिसके बाद लड़की बहुत दिनों तक उसके दोस्त के घर पर रही। लड़की की गुमशुदगी दर्ज होने के बाद पुलिस ने सुमित को हिरासत में लेकर पूछताछ की लेकिन उसने कुछ भी नहीं बताया।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम 

मुख्य आरोपी सुमित ने पुलिस को बताया कि नौ जनवरी को उसने निवाड़ी थाना क्षेत्र के ही गांव नगला मूसा निवासी अपने दोस्त सोनू, करनावल मेरठ निवासी राजीव, पैंगा निवासी आरिफ को बुलाकर हत्या की साजिश रची। सुमित के पिता रमेश चंद (60) ने ही हत्या के लिए कहा था। 10 जनवरी को आरिफ अपने दोस्त की कार लेकर पहुंचा और किशोरी को बैठाकर दिन भर घुमाया।

एसएसपी ने बताया कि मुरादनगर के पास सभी ने शराब पी और फिर गांव अघेड़ा के पास ले जाकर स्टोल (शॉल) से गला दबाकर हत्या कर दी। किशोरी कहीं बच न जाए, इसके लिए आरोपियों ने उसके गले पर कार का पहिया चढ़ा दिया।

56 total views, 2 views today